Pushpendra Kulshrestha Talk about Israel Education System | Pushpendra Kulshrestha Latest

19 thoughts on “Pushpendra Kulshrestha Talk about Israel Education System | Pushpendra Kulshrestha Latest

  1. आप इस वीडियो को शेयर करके हमारी बात अन्य लोगों तक पहुंचाने में हमारी मदद कर सकते हैं, और नीचे कमेंट के माध्यम से अपने विचार हमारे साथ साझा कर सकते हैं।

  2. When Modi said that story….it reminded me of Lion king…. Actually it is a Indian folk story….my grandma told us when we were kids

    But there was scar or any villan in the story….it was just for morals….

    Never forget who you are or your roots…

    She told us this story as we used to live in Mumbai and used to visit our village only in summer vacations and we used to make fun of locals

  3. Rajputana, Sikh, or Maratha humarai Desh ki Shaan hai unhonai hi mara hindutva bcchaya hai or aj hum unhai hi gali Dina Sai nhi sakhte 🙄🙄 bollywood bhi Inka sirf mazak bnnatai hai

  4. Please let me know what is the reason to make Bangladesh and Pakistan. Yes, sir, those people should move.

  5. पुष्पेन्द्र कुलश्रेष्ठ जी हमारे लिए जावमंत के समान है।

  6. सोये हुये समाज का पुरुषार्थ को जगाने का यही तरीका है!आगे बढो, पुष्पेद्र जी!

  7. इस्राईल ने मुसलमानो की इट से इट बजाकर रख दी है | वंदे मातरम् भारत माता की जय जय श्रीराम 🚩🚩🚩🚩🚩🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🚩🚩🚩🚩🚩🚩

  8. असल में हमें बाहर लोग से डर नहीं है पाकिस्तान से हमें कोई डर नहीं है हमें चाइना से भी कोई डर नहीं है डर है उन लोगों से जो इसी देश में खाते हैं इसी देश में सोते हैं लेकिन भारत माता की नारा नहीं लगाते हैं वंदे मातरम नहीं बोलते हैं लेकिन पता नहीं क्यों पाकिस्तान जिंदाबाद बोलते रहते हैं और हिंदुस्तान मुर्दाबाद बोलते रहते हैं जब तक यह चलता रहेगा तब तक देश में को कितना भी तरह की हो जाए फिर भी देश में शांति नहीं होने वाली है

  9. मैंने इस्लाम क्यों छोड़ा ? – फैज़ल अहमद……………..क़ुरान का विज्ञान से तो कोई लेना देना ही नहीं है। ये मैं ज़ाकिर नाइक के किताब Science in Quran पढ़ने के बाद कह रहा।

    ३. मेरा सवाल मुस्लिम भाइयो से है की अगर हजरत जीसस कोई पैगम्बर थे और उनकी बाइबिल बदल दिया गया है और आखरी पैगम्बर मोहम्मद है ? तो ये बताये की अल्लाह परमेश्वर का नाम बाइबिल में क्यों नहीं है ? बाइबिल का ईश्वर यहुवा क्यों है ? चलो मान ले बाइबिल ही बदल दिया गया। पर ये जान ले बाइबिल और क़ुरान के आने में लगभग ५०० वर्ष का फासला रहा है। क़ुरान के नाजिल होने से पहले बाइबिल ठीक थी , और क़ुरान के आते ही बाइबल बदल दिया गया। मेरा सवाल ये है की जब ईसाइयो को पता था की ईशा मसीह पैगम्बर है और अल्लाह ही परमेश्वर है। फिर इशाईयो ने ईश्वर का भी नाम बदल दिया ?

    ४. बाइबिल नहीं बदला गया है बल्कि क़ुरान में सारे पात्र बाइबिल से चुराई गयी है और नई कहानी लिखी गयी है सच्चाई यही है की क़ुरान बदल दिया गया है , क्योकि क़ुरान की कई अध्याय युद्ध में खो गयी थी जैसे सूरा रमजान , और बची हुई कुछ बकरी खा गयी थी और उसके बाद भी जो बचा उसको जला दिया गया था।
    ये मैं नहीं कह रहा हदीसे कह रही। आज जो भी क़ुरान है वो नबी मोहम्मद के मरने के ३०० साल बाद फिर से लिखी गयी वाली है । आज की कुरआन पूरी की पूरी मिलावट है -बिलकुल भी नबी मोहम्मद के समय की नहीं है।

    ५. अगर आप प्रमुख चारों हदीसो को पढ़ेंगे , और उसके बाद क़ुरान पढ़ेंगे तो पता चलेगा की इस्लाम विरोधी वेबसाइट पर क़ुरान में आरोप और गलतियां बिलकुल सही बताई गयी है और मोहम्मद साहब एक नास्तिक थे , उसने सिर्फ क़ुरान का दुरूपयोग किया , ईश्वर पर उनका कोई विस्वास नहीं था।

    ६. इस्लाम कोई महजब भी नहीं है ,क़ुरान सिर्फ एक आतंक की किताब है , जो लालच देके लोगो का Brainwash करता है।

    ८. आज isis जो भी कर रहा , उसके सारे कुकर्मो क़ुरान ,हदीस और मोहम्मद साहब की जीवनी से बिलकुल १००% मिलती है। मुझे अगर मौका मिला तो मैं रेफरेंस के साथ isis की सारी activity को explain कर दूंगा। isis बिलकुल true इस्लाम को फॉलो कर रहा।

    ९. इस्लामिक हदीस और क़ुरान से पता चलता है की मोहम्मद साहब और उनके सहाबी लूटेरों का एक गिरोह था , जिसमे सहाबियों को लूट में मिले धन और बलात्कार करने के लिए छोटी बच्ची , लौंडिया या औरतें मिलती थी। और बाद में लोंडियो को दासी बना के खरीद बिक्री करते था। जैसे क़ुरान में भी कई जगह बताया गया है की दासी से जबरदस्ती हमबिस्तरी कर सकते हो, यहाँ तक की पत्नी से भी जबरदस्ती करने की शिक्षा क़ुरान देता है

    १०. क़ुरान के अनुसार हर वो इंसान अल्लाह का दुश्मन है जो अल्लाह , उसके रसूल ,जिब्राइल ,मिकाइल को नहीं मानता , और अपने दुश्मनो से लड़ते रहो जबतक की सारी दुनियां में इस्लाम न फ़ैल जाए। अगर ऐसे चला तो इस्लाम या तो सबको मिटा देगा या खुद मिट जाएगा ?

    ११. ये बात तो बिलकुल भी न कोई करे की मुझे ही इस्लाम की जानकारी नहीं , जितना किताब का नाम ज़ाकिर नाइक लिया है , मैं उनसब किताबो न सिर्फ पढ़ रखा हूँ बल्कि शोध भी किया हूँ। बचपन से मैं भी इस्लाम की झूठी बनावटी कहानियाँ सुनते आया हूँ।

    १२. कोई भी जन्नत जहन्नुम नहीं होता , Re-Birth का concept सत्य है , क्योकि ऐसा बहुत सा case आया है की एक दो साल के बच्चे को अपना पिछला जन्म याद आया हो , और जैसे जैसे वो बड़ा होते गया उसकी यादे और भी तेज़ होते गयी , ११ उम्र में अपने पिछले जन्म के जगह पहूँच गया , और अपने परिवार से भी मिला , २ वर्ष से ११ वर्ष की अवस्था में जितने भी बाते कही सारे गाँव वालो और उसके परिवार के अतीत से मिली भी। मैंने सिर्फ एक case बताया , मैंने २२ case देख चुका हूँ , और सबसे बड़ी बात अगला हो या पिछला दोनों जन्म वो सभी गैर मुस्लिम ही था।

    १४. इस्लाम एक बहुत बड़ा झूठा महजब है , ये दुनियां का सबसे बड़ा सत्य है। जिनते तेज़ी से धोखे से इस्लाम कबूलवाया जा रहा ? उससे ६ गुना तेज़ी से लोग इस्लाम को छोड़ भी रहे है।

    १५. अगर आपको धर्म ही चाहिए , तो आप सनातन धर्म अपना लीजिये , ये दुनियां का सबसे पहला धर्म है जिसका धर्म ग्रन्थ वेद है , नासा द्वारा भी वेदों पर रिसर्च होती है। इस धर्म में कहानी , कोई इतिहास , कोई एक जगह विराजमान ईश्वर , कोई शरीरधारी देवता , या कुछ भी बकवास नहीं है। आज इस धर्म को आर्यसमाज जिन्दा रखा है। मैंने ऋग्वेद और यजुर्वेद पर शोध कर चूका हूँ। मुझे ये वेद कोई धर्म ग्रन्थ नहीं बल्कि आधुनिक विज्ञान की पुस्तक लगती।

  10. आप का ऐक ऐक बात चचा को दिल मे लगता है बोलो जय श्री राम ।। राम राम।।

  11. तबस्सुम~मेरे अब्बू बड़ी बहन से 5 साल से रेप करते हैं वो जहर खा कर मर गई अब मुझे सेक्स के लिए दबाव बना रहे हैं।

    https://youtu.be/3MWo9MZFQs4

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *